Single Blog Title

This is a single blog caption
ASHA Kisan Swaraj
18
Oct

किसान स्वराज सम्मेलन : पंजीकृत प्रतिभागियों की पहली सूची, कार्यक्रम का वर्तमान प्रारूप, व्यवस्था संबंधी कुछ आवश्यक जानकारी

कार्यक्रम का वर्तमान प्रारूप: पूरा कार्यक्रम यहां उपलब्ध है

पंजीकृत प्रतिभागियों की पहली सूची यहां उपलब्ध : https://new.kisanswaraj.in/wp-content/uploads/REGISTRATION-CONFIRMATION-LIST-1-KSS-2018-OCT-17TH.pdf

प्रिय मित्रवर,

‘आशा’- किसान स्वराज और गुजरात विद्यापीठ के तत्वधान में और जतन की मेजबानी में अहमदाबाद में 2-4 नवंबर, 2018 को आयोजित किये जा रहे चौथे किसान स्वराज सम्मेलन में आप का स्वागत है। आशा है आपने आने-जाने की टिकट समेत यात्रा की तैयारी कर ली होगी। सम्मेलन की व्यवस्था संबंधी कुछ आवश्यक जानकारी आप को भेज रहे हैं। कृपया इसे को ध्यान से और पूरा पढ़ने का कष्ट करें।

      सम्मेलन स्थल तक पहुँच: सम्मेलन गुजरात विद्यापीठ में आयोजित किया जा रहा है। विद्यापीठ अहमदाबाद के बीच आश्रम रोड पर आयकर चार रास्ता के समीप स्थित है। कृपया ध्यान दें कि आप को स्टेशन इत्यादि से सम्मेलन स्थल पर स्वयं पहुँचना है। आयोजकों की ओर से स्टेशन इत्यादि से आप को लेने की कोई व्यवस्था नहीं है।

कहाँ से

दूरी (किलोमीटर)

बस क्रमांक

किराया (रुपये)

नोट

अहमदाबाद (कालूपुर) रेलवे स्टेशन

8

66/1, 67/1S, 69, 79, 69/T, 137, 137/1, 137S, 146-1, 147/1 बस: 10आटो :80-100

उबर :100-120

वडज दिशा में जाने वाली बस लें। बस हर 10-15 मिनट पर उपलब्ध होगी। गुजरात विद्यापीठ की टिकट लें। यात्रा समय 30 मिनट के करीब होगा और 10-13 स्टेशन के बाद (रूट और ट्रेफिक पर निर्भर होगा)  विद्यापीठ आएगी
मुख्य बस अड्डा( गीता मंदिर)

8

13-1,13/1ST, 74,75
हवाई अड्डा

10

शटल सेवा उपलब्ध उबर/आटो :150

      आवास व्यवस्था पहली पंजीकरण सूची में शामिल सभी (गुजरात समेत) प्रतिभागियों के आवास की व्यवस्था गुजरात विद्यापीठ परिसर के छात्रावासों में है। आवास व्यवस्था साधारण और सम्मिलित है (यानी एक कमरे में कई लोग होंगे)। महिला और पुरुषों की व्यवस्था अलग अलग छात्रावासों में होगी। हमें यह ध्यान रखना होगा कि 800 अन्य लोगों ने भी एक ही समय पर तैयार होना है। महात्मा गांधी जी के आदर्शों को अनुरूप हमें अपने आवास और स्नान क्षेत्र की साफ सफाई का ध्यान रखना है।

      सामान जो आप को लाना है:

  1. अपनी दवाई, मच्छर भगाने की क्रीम और पानी की बोतल।
  2. तौलिया और अन्य प्रसाधन सामग्री।
  3. रेडियो अनुवाद व्यवस्था उपलब्ध होने की स्थिति में उपयोग हेतु मोबाइल के साथ कान में लगाने वाला ईयर फोन
  4. हालांकि चादर की व्यवस्था आवास पर भी होगी पर व्यक्तिगत साफ सफाई के उद्देश्य से चादर और स्वेटर ।

      कृपया अपना पेन और कापी लाएँ क्योंकि संसाधनों के दुरुपयोग को रोकने के नजरिये से आयोजकों द्वारा इस की व्यवस्था नहीं की गई है।

सभी प्रतिभागियों/समूहों से अनुरोध है कि वे अपने संगठन के नाम और नारों के साथ कपड़े के बैनर लाएँ। ये आपकी स्थानीय भाषा में भी हो सकते हैं। परन्तु ध्यान रहे ये फ़्लेक्स बैनर न हों। हमारा प्रयास है कि यह सम्मेलन प्लास्टिक और अवशेष मुक्त हो।

      मौसम: सम्मेलन के दौरान अहमदाबाद में दिन गर्म होंगे। अधिकतम तापमान 36 o  और रात का न्यूनतम तापमान 21 o सेन्टीग्रेड रहने का अनुमान है। दिन के लिए हल्के कपड़े और शाम 8 बजे से सुबह 8 बजे तक के लिए हल्के उनी कपड़े या शाल लाएँ।

      आने जाने का विवरण: जिन प्रतिभागियों ने अपने आने जाने का विवरण नहीं भेजा है उन से अनुरोध है कि शीघ्र ही ये सूचना, दिनांक और समय सहित asha.kisanswaraj@yahoo.in पर भेजें। इस से हमें भोजन और निवास की उपयुक्त व्यवस्था करने और अपव्यय रोकने में सुविधा होगी। विद्यापीठ परिसर में पहुँच कर मुख्य अतिथि निवास के पास स्थित पंजीकरण स्थल पर संपर्क करें। कृपया ध्यान दें कि दीपावली की छुट्टियों के चलते आवास सुविधा 5 नवंबर की सुबह तक के लिए ही है। अगर आप को इस के बाद भी अहमदाबाद में रहना तो अपने स्तर पर अलग से आवास व्यवस्था करने का कष्ट करें।

आशा है यह जानते हुये कि यह सम्मेलन सार्वजनिक सहयोग से बहुत ही कम संसाधनों में आयोजित किया जा रहा है, हम आशा करते हैं कि आप इन सीमित सुविधाओं को सहर्ष स्वीकार करेंगे और व्यवस्था सम्बन्धी त्रुटियों को नज़रअंदाज़ करेंगे।

कार्यक्रम का वर्तमान प्रारूप संलग्न है। अंतिम समय पर इस में छोटे-मोटे बदलाव हो सकते हैं। जैसा कि पंजीकरण की घोषणा में भी सूचित किया गया था, आप से अनुरोध है कि www.kisanswaraj.in पर डाली गई पंजीकृत प्रतिभागियों की सूची से आप अपने और आप की टीम के लिए अनुवादकों की तलाश शुरू कर दें।

      सम्मेलन के बाद का भ्रमण: 5 नवंबर 2018 को एक दिन का सजीव खेतों का भ्रमण आयोजित किया जाएगा जिस के लिए आप को अलग से भुगतान करना होगा। विवरण पंजीकरण स्थल पर उपलब्ध होगा। आप से अनुरोध है कि अगर आप इस भ्रमण में शामिल होना चाहते हैं तो 2 नवंबर दोपहर तक इस सजीव खेती भ्रमण के लिए पंजीकरण करा लें।  

अपना अनुभव बांटने के लिए पधारिए। आशा है एक दूसरे से सीखने का यह अवसर मस्ती भरा भी रहेगा। शीघ्र ही आप से मिलने की उत्कंठा है। पंजीकरण/व्यवस्था/कार्यक्रम सम्बन्धी किसी भी जानकारी के लिए asha.kisanswaraj@yahoo.inको लिखें या 9428463288 / 9427054132 / 8880067772 पर संपर्क करें।

 

कपिल शाह                        कविता कुरुगंटी                    ड़ा राजेन्द्र खिमानी

जतन                                       आशा                           गुजरात विद्यापीठ

 

चौथा किसान स्वराज सम्मेलन

आयोजक आशा’- किसान स्वराज और गुजरात विद्यापीठ

मेजबान जतन

पहला दिन, शुक्रवार, 2 नवंबर 2018

समय

विषय

प्रात: 08.00 से 09.00

नाश्ता

प्रात: 09.00 से 10.00 गुजरात विद्यापीठ का सामूहिक दौरा विद्यापीठ  स्वयं सेवक
प्रात:10.00 से 10.30 स्वागत, विद्यापीठ का परिचय, गीत

गुजरात विद्यापीठ एवं जतन

प्रात:10.30  से दोपहर 12.00 तक उद्घाटन सत्र: स्वागत, सम्मेलन के उद्देश्य और परिचय, आशा और इस का पिछले 8 साल का सफर, सूचनाएँ इत्यादि: गुजरात विद्यापीठ एवं आशा
दोपहर 12.00 से 01.30 जैविक कृषि- सलाह और जानकारी

तीन कमरों में तीन विशेषज्ञ समूह

दोपहर 01.00 से 02.00

भोजन

दोपहर 02.00 से 03.30 एवं 03.30 से 05.00 जैविक कृषि और कृषि नीति पर समांतर सत्र 1 (12 विषयों पर 1.30 घंटे के दो सत्र) बीज वैविध्य बहाली, महिला किसान, पट्टेधारी किसान, प्रसंस्करण और मूल्य संवर्धन,  क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी (आरसीईपी) सहित मुक्त व्यापार समझौते, किसानो के कानूनी अधिकार- कर्ज़ से मुक्ति एवं लाभकारी दाम की गारंटी कानून के प्रस्ताव, जल संसाधनों पर अधिकार,, जलवायु परिवर्तन: जमीनी और नीतिगत कार्यसूची, भूमि प्रबंधन, जल प्रबंधन, बीमारी एवं कीट प्रबंधन, खरपतवार प्रबंधन,
साँय 05.00 से 06.00

प्रदर्शनी भ्रमण, अनौपचारिक परस्पर संपर्क हेतु  खाली समय

साँय 06.00 से 07.30 सार्वजनिक व्यiख्यान “भोजन, किसान, संप्रभुता” पी साइनाथ, उल्का महाजन, राजेश कृष्णन
साँय 07.30 से 08.30

भोजन

रात 08.30 बजे के बाद दो फिल्म (समांतर) 1 “जगया त्यर्थी सवार” (गुजराती)  2 “मिट्टी” तेल्गू हिन्दी उपशीर्षक सहित
रात 08.30 बजे के बाद कृषि आजीविका के लिए युवाओं को जोड़ना – खुली चर्चा

दूसरा दिन, शनिवार, 3 नवंबर 2018

प्रात: 06.30 से 07.15 विपासना
प्रात: 07.30 से 08.30

नाश्ता

प्रात: 09.00 से 10.30 महिला, आदिवासी और पट्टाधारी किसानों और मुक्त व्यापार समझौतों पर चर्चा 
प्रात: 10.45 से 12.15 एवं  12.15 से 01.45 दोपहर तक जैविक कृषि और कृषि नीति पर समांतर सत्र 2 (15 विषयों पर 1.30- 1.30 घंटे के दो सत्र) 1 ग्रामीण जैविक पोषण वाटिका, . 2 छोटे किसानों के लिए पशुपालन, 3 क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी (आरसीईपी) सहित मुक्त व्यापार समझौते, 4 प्रसंस्करण और मूल्य संवर्धन, 5 पट्टेधारी किसान, 6 जलवायु परिवर्तन: जमीनी और नीतिगत कार्यसूची, 7 आदिवासी किसान, 8 जैविक बिक्री, 9 कृषि हेतु  औज़ार और उपयुक्त मशीन, 10 हमारे भोजन और हमारी कृषि में संशोधित जीन बीज (जीएमओ), 11 भूमी अधिग्रहण, 12 जैविक कृषि- सलाह और जानकारी (3 विशेषज्ञ समूह तीन स्थानों पर), 13 छोटे किसानों के लिए बैंक सुविधा
दोपहर 01.45 से 02.45

भोजन

दोपहर 03.00 से 05.00 जैविक कृषि और कृषि नीति पर समांतर सत्र 3 (14 विषय) 1. बीज वैविध्य बहाली, 2. महिला किसान, 3. किसानो  के कानूनी अधिकार- कर्ज़ से मुक्ति एवं लाभकारी दाम की गारंटी कानून के प्रस्ताव, 4. जल संसाधनों पर अधिकार, 5. भूमि अभिलेखों का कंप्यूटरीकरण, 6. कृषि हेतु  औज़ार और उपयुक्त मशीन, 7. आदिवासी किसान, 8. .जैविक बिक्री,  9. हमारे भोजन और हमारी कृषि में संशोधित जीन बीज (जीएमओ),  10. भूमी अधिग्रहण, 11. किसानों के समर्थन में शहरी लोगों को जोड़ना, 12. ग्रामीण जैविक पोषण वाटिका, 13. छोटे किसानों के लिए पशुपालन, 14. छोटे किसानों के लिए बैंक सुविधा
साँय 05.00 से 06.00

प्रदर्शनी भ्रमण, अनौपचारिक परस्पर संपर्क और गुजरात विद्यापीठ के संग्रहालयों के भ्रमण हेतु खाली समय

साँय 06.00 से 07.30 सार्वजनिक व्यख्यान “कृषि आजीविका के लिए राजनैतिक समर्थन जुटाना” योगेन्द्र यादव, प्रतिभा शिंदे, ड़ा जीवी रमंजनेयुलु (रामू)
साँय 07.30 से 08.30

भोजन

साँय 08.30 से 10.00 जीवन के गीत विनय और चारुल (लोकनाद)

तीसरा दिन, इतवार, 4 नवंबर 2018

प्रात: 06.30 से 07.15 विपासना
प्रात:07.30 से 08.30

नाश्ता

प्रात: 08.30 से 10.00

दो समांतर सत्र : 1. टिकाऊ कृषि आजीविका हेतु शिक्षाविद और शोधार्थी, 2. टिकाऊ कृषि आजीविका पर किसान संगठनों का नज़रिया

प्रात: 10.30 से दोपहर 12.00  तक कृषि संकट से निपटने और टिकाऊ कृषि आजीविका के समर्थन में सरकारी पहलकदमी
दोपहर 12.00 से 01.30 सार्वजनिक व्याख्यान“स्वराज बहाली”” आशीष कोठारी, इला बहन भट्ट, पोपट राव पवार
दोपहर 01.30 से 02.00 औपचारिक समापन  एवं सम्मेलन घोषणा
दोपहर 02.00 से 03.00

भोजन

(03.00 pm to 04.30) (हर राज्य के मुख्य आशा कार्यकर्ता के नेतृत्व में राज्यवार योजना निर्माण और आशा की औपचारिक सदस्यता बाबत के लिए बैठक)

आम जनता और पंजीकृत प्रतिभागियों के लिए तीनों दिन

शहरी बगीची कार्यशाला (प्रीति भोसले, गुजरात विद्यापीठ एवं अन्य)। 15 राज्यों का कृषि वैविध्य उत्सव, 3 राज्यों की वन संकलित भोज्य प्रदर्शनी, कृषि प्रदर्शनी, किसान हाट, विभिन्न राज्यों का जैविक भोजन (केवल कूपन द्वारा)  रात को फिल्म एवं लोकनाद के गीत, सूत कताई, सार्वजनिक व्याख्यान

 

Leave a Reply

You are donating to : Support ASHA Kisan Swaraj

How much would you like to donate?
$10 $20 $30
Would you like to make regular donations? I would like to make donation(s)
How many times would you like this to recur? (including this payment) *
Name *
Last Name *
Email *
Phone
Address
Additional Note
paypalstripe
Loading...